Widgets Magazine

मेरे को आज कूछ नही आठवले...

मेरे को आज कूछ नही आठवले...
तो मेने फक्त gud morning पाठवले....
-- कवी विचारु नका.

थंडी भी बहोत सुटी है,
आणि वारा भी बहोत सुटा है,
तुमको क्या सांगु...
इसलिए मै दुपारको उठा है.
- सहज आठवले, इसलिये पाठवले.
बचपन मे था खोकला
तो मेरुकु औषध चाटवले.

बचपनमे था खोकला
तो मेरुकु औषध चाटवले.

आज फिर से आया खोकला
इसलिए मेरुकु फिर से आठवले
.
जो मुझे वोट देंगा उसको
पिलाऊंगा मै बोर्न वीटा....
जो मुझे वोट देंगा उसको
पिलाऊंगा मै बोर्न वीटा....
जो मुझे वोट नहीं देंगा उसको
फेक के मारूंगा मै दगड-वीटा !!
-- कविवर्य- .....तेच
आंघोळ के कारण आई से दररोज होता है तंटा,
म्हनती है वो गार पाणी लेता है तो भी ईतना टाइम लगाता है भामटा,
मै आईसे बोल्या आये मै क्या करू,
गार पाणी का पहला तांब्या आंगपे लेऊ की नको इसमेच जाताय मेरा १ घंटा
- कवी तेच ते.

लोहा लोहे को कापता है
प्लास्टिक प्लास्टिक को कापता है...
वाह . . . वाह . . .
लोहा लोहे को कापता है प्लास्टिक प्लास्टिक को कापता है...
वाह . . . वाह . . .
लेकिन...
माणुस हि एक ऐसा इंसान है
जो न्हावि के पास जाकर केस
कापता है.

मच्छी को खाता है बगळा
मच्छी को खाता है बगळा
फिर मेरे को मंत्रीपद से क्यों वगळा
--- कवी ????

पावसाळे मे ऊन पड्या....
ऊन्हाळे मे गारा....
अभी थंडी मे पड रहा है पाऊस....
देवा तुम्हारे काँप्यूटर का बिघड्या क्या माऊस?
- आपले सर्वांचे लाडके कवी !!

थंडे पाणी से मारा आँगन मै सडा...
थंडे पाणी से मारा आँगन मै सडा...
इसीलिए आज चांगल ऊन पड़ा.


यावर अधिक वाचा :